कोरोना वायरस से बचने के लिए खानपान में शामिल करें इन चीजों को

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए खानपान की चीजों में परिवर्तन लाने की बात कही है। वैज्ञानिकों का कहना है कि खाना बनाते समय सरसों के तेल या रिफाइंड की जगह पर आपको नारियल तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। वहीं विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जियों को अपने खाने में शामिल करना चाहिए।

इसके साथ ही वैज्ञानिकों का कहना है कि बेरीज में क्रैनबेरिज, ब्लूबेरिज, अंगूर और डार्क चॉकलेट को भी अपने खाने में जगह दे क्योंकि इससे फंगल इंफेक्शन के खतरे कम हो जाते हैं। वहीं खाने में स्टार सौंफ और अदरक को भी शामिल करने की बात कही जा रही है क्योंकि इनमें एंटीवायरल तत्व होते हैं।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए डॉक्टर तुलसी और लहसुन को भी खाने में शामिल करने की बात कह रहे हैं। इसके साथ ही डॉक्टरों द्वारा कच्ची हरी सब्जियों, मीट मछली तथा अंडो से भी दूरी बनाने की बात कही जा रही है।

RSS की सबसे बड़ी सभा को कोरोना की चलते रद्द किया गया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सालाना बैठक को कोरोना वायरस के चलते रद्द कर दिया गया है। बेंगलुरु में यह सालाना बैठक 15 से 17 मार्च के बीच होने वाला था।

RSS प्रमुख सरकार्यवाहक सुरेश भैया जी जोशी ने एक बयान रिलीज करते हुए कहा है कि देश में फैली महामारी कोविड-19 यानि कि कोरोनावायरस ध्यान में रखते हुए वार्षिक सम्मलेन ‘अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा’ को स्थगित किया जा रहा है।

उन्होंने सभी स्वयंसेवकों से यह अपील भी किया कि वे अपने क्षेत्रों में घूमकर लोगों को कोरोना से बचने के लिए जागरूकता फैलाएं और प्रशासन की मदद करें। निरस्त हुए इस बैठक को लेकर कहा जा रहा है कि देश में दूर-दूर से आने वाले बहुत सारे प्रतिनिधि निकल चुके हैं और रास्ते में हैं, ऐसे में उन्हें अब उन्हें वापस जाकर कोरोना की मुहिम का हिस्सा बनने के आदेश दिए गए हैं।

दिल्ली हिंसा के बीच मानवता की मिशाल

हिंसा की वजह से दिल 24 फरवरी को दिल्ली कांप उठी और अचानक चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई। इस हिंसा में सबसे अधिक गोकुलपुरी, जाफराबाद,चांद बाग, भजनपुरा, मौजपुर, करदमपुरी आदि इलाके प्रभावित हुए हैं।

वहीं इस हिंसा में 23 लोग अब तक मारे जा चुके हैं और 200 से भी ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। हालांकि इस दुख की घड़ी में इंसानियत की मिसाल कायम करते हुए गुरुद्वारों ने सभी पीड़ितों के लिए अपने यहां पनाह देने का काम किया है चाहे वह किसी भी धर्म से संबंध रख रहे हों।

शिफ्ट हो रहे हैं रामलला

पिछले 28 सालों से एक टेंट में निवास कर रहे प्रभु श्री राम की मूर्ति को मंदिर निर्माण कार्यों की वजह से एक बुलेट प्रूफ फाइबर स्ट्रक्चर के नीचे शिफ्ट किया जा रहा है। राम मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय का कहना है कि इस स्ट्रक्चर में एक पारदर्शी शीशा लगाया गया है जिसके माध्यम से श्रद्धालु भगवान राम के दर्शन कर पाएंगे।

चंपत राय का कहना है कि एक बार मंदिर के गर्भगृह का निर्माण कार्य पूरा हो जाए तो वापस रामलला की मूर्ति को उसी स्थान पर रख दिया जाएगा। तब तक के लिए मूर्ति को गर्भ गृह से 150 मीटर की दूरी पर मानस भवन की तरफ अस्थाई रूप से रखा जाएगा। कहा जा रहा है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होने के साथ ही गर्भ गृह को सोमनाथ मंदिर से भी बड़ा बनाए जाने की योजना है।

इस मंदिर की सबसे बड़ी खासियत यह होगी कि मंदिर निर्माण में लोहे का प्रयोग नहीं होगा और इसे नागर शैली में स्वदेशी तकनीक से तैयार किया जाएगा।

दिल्ली में मिलेनिया ट्रंप के कार्यक्रम को लेकर US का बयान

मिलेनिया ट्रंप के कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को शामिल न किए जाने को लेकर अमेरिकी दूतावास ने एक बयान जारी किया है। अमेरिकी दूतावास का कहना है कि फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप 25 फरवरी को दिल्ली के सरकारी स्कूलों के ‘हैप्पीनेस क्लासेस’ का दौरा करेंगी इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के शामिल ना होने को लेकर उन्हें कोई एतराज नहीं है।

क्योंकि यह कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। वहीं इस कार्यक्रम में स्कूल, शिक्षा और छात्रों के बारे में बात किया जाए तो ज्यादा बेहतर होगा। बता दें कि आम आदमी पार्टी द्वारा यह आरोप लगाया जा रहा है कि केंद्र में बीजेपी सरकार द्वारा जानबूझकर कार्यक्रम से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया का नाम हटाया गया है।

वहीं इस आरोप का खंडन करते हुए बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि इस तरीके से एक दूसरे की टांग खींचने से कोई फायदा नहीं और यूएस के सामने हमें एक होकर प्रस्तुत होना होगा।

अब दिल्ली के जाफराबादी में प्रदर्शन, मेट्रो स्टेशन बंद किया

दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के बाहर अचानक सैकड़ों महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सड़कों पर उतर आयीं और लगातार डेरा जमाए हुए प्रदर्शन कर रही हैं।

वहीं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली मेट्रो कारपोरेशन ने जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट को अस्थायी समय के लिए बंद कर दिया है। वहीं इस स्टेशन पर मेट्रो ट्रेन रुक नहीं रही है।

बता दें कि प्रदर्शन के लिए महिलाएं सड़क पर बैठी है जिसको लेकर सड़क मार्ग का भी आवागमन पूरी तरीके से ठप हो गया है। प्रदर्शन के दौरान महिलाएं आजादी के नारे भी लगा रही हैं और कह रही है कि जब तक केंद्र सरकार CAA को वापस नहीं लेती तब तक प्रदर्शन खत्म नहीं होंगे।

चीन के बाद अब इन देशों में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस को लेकर चीन ने यह सूचना जारी की है कि अब कोरोना वायरस तेजी से चीन में घट रहा है, लेकिन अन्य देशों के लिए एक बुरी खबर भी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारी के अनुसार कोरोना वायरस तेजी से दूसरे देशों में फैल रहा है। जिसमें दक्षिण कोरिया और इटली शामिल हैं। ईरान और लेबनान में भी यह वायरस तेजी से अपने पैर पसार रहा है। दक्षिण कोरिया में अचानक शनिवार को कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या दोगुनी होकर 433 के पार चली गई।

जल्द ही अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह आंकड़ा एक हजार से ऊपर जा सकता है। ईरान में भी अचानक 10 लोग कोरोनावायरस से पीड़ित पाए गए और शनिवार को इनकी संख्या 29 के आसपास हो गई, जिनमें 6 लोग अपनी जान गवां चुके हैं।

डब्ल्यूएचओ ने चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि कोरोना कमजोर स्वास्थ्य ढांचे वाले देशों में फैलता है तो यह और अधिक खतरनाक हो सकता है। वहीं UN ने अतिसंवेदनशील देशों के लिए 675 मिलियन डॉलर की सहायता मांगी है।

डोनाल्ड ट्रंप ने की ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ की तारीफ

शुक्रवार को रिलीज हुई रोमांटिक कॉमेडी गे फिल्म ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ की तारीफ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने की है। डोनाल्ड ट्रंप में ट्वीट करके यह बात बताई है कि भारत जैसे देश में गे संबंधों को लेकर जागरूकता फैलाई जा रही है, और इस फिल्म के माध्यम से बड़े बूढ़े बुजुर्गों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है यह एक बेहतरीन कोशिश है।

बता दें कि ट्रंप ने यह पोस्ट ब्रिटिश एक्टिविस्ट पीटर गैरी केचर के ट्वीट के ऊपर रीट्वीट करते हुए कहा था।

ट्रंप के इस ट्वीट पर जवाब देते पीटर गैरी केचर ने बताया कि डोनाल्ड ट्रम्प LGBT संबंधों को लेकर गंभीर हैं और यह कोई पब्लिसिटी स्टंट नहीं है।

चीन में मुसलमानों के प्रताड़ना की एक और नई तस्वीर

जैसा कि सभी जानते हैं कि चीन में रह रहे मुसलमानों की हालत वहां बेहतर नहीं है। आए दिन चीन उनके साथ क्रूरता करते रहता है। वहीं एक सनसनीखेज डॉक्यूमेंट के द्वारा यह बात सामने आई है कि चीन ने अपने यहां मुसलमानों को सिर्फ इस आधार पर डिटेंशन सेंटर में डाल रहा है कि वह दाढ़ी क्यों रखे हैं और हिजाब क्यों पहन रहे हैं?

इसके अलावा इसडॉक्यूमेंट में यह भी खुलासा किया गया है कि चीन में उइगर मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार आतंकवाद से निपटारे के नाम पर नहीं बल्कि धर्म के आधार पर हो रहे हैं। इस डॉक्युमेंट यह कहा गया है कि चीन उइगर मुसलमान महिलाओं को हिजाब पहने, पुरुषों को दाढ़ी रखने, 3 बच्चे पैदा करने, नमाज पढ़ने जैसे आरोपों के चलते हिरासत में रख रहा है।

बता दें कि चीन पाकिस्तान के साथ दोस्ती के दावे करता है और दूसरी तरफ चीन में रह रहे मुसलमानों को अमानवीय तरीके से दबा रहा है।

महिलाओं के पीरियड को लेकर स्वामी कृष्णस्वरूप का विवादित बयान

कुछ दिन पहले ही गुजरात के स्वामीनारायण मंदिर के ट्रस्ट द्वारा चलाए जा रहे स्कूल का एक मामला चर्चा में आया था जिसमें लड़कियों के अंडर गारमेंट उतारकर पीरियड चेक किए गए थे। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था।

इसके बाद गुजरात के स्वामीनारायण भुज मंदिर के स्वामी कृष्णस्वरूप दास जी ने महिलाओं के पीरियड को लेकर एक विवादित बयान दिया है। स्वामी कृष्णस्वरूप दास जी का कहना है कि पीरियड के दौरान महिलाएं खाना बना कर खिलाती हैं तो वह अगला जन्म कुत्ते के रूप में लेंगी।

वहीं जो पुरुष इस दौरान महिलाओं के हाथों बने भोजन का सेवन करते हैं तो वह बैल के रूप में जन्म लेंगे। यह वीडियो स्वामी नारायण ट्रस्ट के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया है।