आज से शुरू होगा कोरोना के वैक्सीन का परीक्षण

अमेरिका की सरकार ने यह घोषणा किया है कि अमेरिकी वैज्ञानिकों द्वारा कोरोना वायरस के वैक्सीन को तैयार कर लिया गया है। वहीं इस वैक्सीन का परीक्षण 16 मार्च से मानव शरीर पर किया जाएगा। अमेरिका सरकार का कहना है कि अगर यह परीक्षण सफल होता है तो इस वैक्सीन को पूरी दुनिया में दिया जाएगा।

बता दें कि इस परीक्षण में शामिल होने वाले सभी नागरिकों को अमेरिका ‘द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ’ के द्वारा फंडिंग किया जाएगा। वहीं इस ट्रायल के लिए 45 युवा और स्वास्थ्य लोगों को चुना गया है।

अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ ईरान ने मांगी भारत से मदद

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने एक पात्र लिख कर विश्व के सभी नेताओं को यह बताने का प्रयास किया गया है कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में किस प्रकार अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंध बाधा उत्पन्न कर रहे हैं।

अपने इस भाउक पत्र में राष्ट्रपति हसन रूहानी ने वैश्विक नेताओं से जोर देते हुए कहा है कि कोरोना वायरस की लड़ाई के लिए एक ठोस रणनीति की जरूरत है क्योंकि यह वायरस ना धर्म देखता है ना जात और ना ही राजनीति। न ही यह वायरस किसी देश की सीमा को समझता है। इसलिए सभी एक साथ मिलकर इस लड़ाई में शामिल हों।

वहीं अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध को बेहद अनैतिक बताते हुए कहा है कि संकट की इस घड़ी में किसी राष्ट्र के ऊपर प्रतिबंध लगाना बेहद अमानवीय कार्य है।

कोरोना से बचाव में चीन और अमेरिका से आगे निकला भारत

135 करोड़ की जनसंख्या वाले देश भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 100 के आंकड़े को पार कर गया है। वहीं कोरोना वायरस की वजह से 2 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। हालाँकि भारतने कोरोना वायरस पर नियंत्रण के मामले में चीन और अमेरिका जैसे देशों को पीछे छोड़ दिया है।

जहां चीन में 80 हजार के आसपास लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं वहीं 32 हजार लोग इस वायरस से मारे गए हैं। अगर अमेरिका की बात करें तो अमेरिका में 3 हजार से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हैं तो वहीं 57 के आसपास लोग कोरोना की वजह से अपनी जान गवा चुके हैं।

बता दें कि कोरोना के मामले में भारत काफी पहले 22 जनवरी को अपने एयरपोर्ट पर जाँच शुरू कर दी थी जबकि अमेरिका 25 जनवरी तक अपने यहाँ जाँच नहीं शुरू कर पाया था।

करोना को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की अंतर्राष्ट्रीय पहल

विश्व के 100 देशों में बुरी तरीके से फ़ैल चुके कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने सार्क देशों के राष्ट्राध्यक्ष के सामने बड़ी पहल की बात कही है। PM मोदी ने दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन सार्क देशों के राष्ट्र अध्यक्षों को कहा है कि वह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना वायरस पर चर्चा करें और इससे निपटने के उपायों के बारे में एक दूसरे का सहयोग करें।

बता दें कि सार्क संगठन में अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, मालदीव, श्रीलंका, नेपाल और भारत देश शामिल है।

पीएम मोदी ने अपने अपील में कहा है कि सार्क देशों के राष्ट्राध्यक्ष मिलकर पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल रख सकते हैं और अपने क्षेत्र की जनता के स्वास्थ्य के लिए बेहतर योगदान दे सकते हैं।

कोरोना वायरस फैलाने के लिए चीन ने अमेरिका को ठहराया जिम्मेदार

कोरोना वायरस को लेकर जहां पूरा विश्व सशंकित है और आपातकाल की घोषणा हो चुकी है। वहीं चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने ट्वीट करते हुए कोरोना वायरस को फैलाने के लिए अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया है।

बता दें कि इससे पहले डिजीज कंट्रोल के निदेशक राबर्ट रेडफील्ड ने आरोप लगाया था कि चीन में हमारे कुछ सैनिक इन्फ्लुएंजा की वजह से मारे गए हैं और हो सकता है वो कोरोना वायरस से संक्रमित होंगे।

इतना ही नहीं चीन ने अमेरिका के कोरोना वायरस की तैयारियों पर भी उंगली उठाया है और कहा है कि पूरे विश्व को अमेरिका यह बताएं कि कोरोना को लेकर अमेरिका में किस स्तर की तैयारी की गई है और कितने अस्पतालों में कोरोना को देखते हुए विशेष इंतजाम किए गए हैं?

कोरोना वायरस के चलते भारत आने वालों के वीजा 15 अप्रैल तक सस्पेंड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या को देखते हुए एक बेहद कड़ा फैसला लिया है। PM के आदेश से भारत आने वाले सभी यात्रियों के वीजा को 15 अप्रैल तक के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। ज्ञात हो कि कोरोना एक दूसरे के माध्यम से तेजी से फैल रहा है इसी को ध्यान में रखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दी है।

वहीं भारत सरकार का कहना है कि तक जब तक स्थिति समझ में नहीं आती बाहर की दुनिया से कोई भी भारत में प्रवेश नहीं करेगा। वहीं सरकार का कहना है कि ओसीआई कार्ड धारकों को भी 15 अप्रैल तक के लिए भारत में आना वर्जित है।

अगर विशेष इमरजेंसी की स्थिति है तो भारतीय मिशन से परमिशन मिलने के बाद ही कोई भारत में आ सकता है और आने के 14 दिन तक उसे सबसे अलग रखा जाएगा।

कोरोना वायरस की दवाई का अपने ऊपर टेस्ट कराने वालों को कंपनी दे रही है लाखों रूपये


लंदन स्थित व्हाइटचैपल के वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार कर ली है और इस वैक्सिंग की टेस्टिंग के लिए उन्हें कुछ लोगों की जरूरत है। अपने ऊपर टेस्टिंग कराने वाले लोगों को 3500 पाउंड यानी की साढे 3 लाख के आसपास की रकम दिया जायेगा।

हालांकि इसके लिए शर्त यह है कि आपको कोरोना वायरस से संक्रमित होना पड़ेगा। लंदन की व्हाइटचैपल द क्वीन मेरी बायोएंटरप्राइजेज इनोवेशन सेंटर के वैज्ञानिकों को 24 लोगों की जरूरत है इस परिक्षण में शामिल होने के लिए। वहीं वैज्ञानिकों का कहना है कि इस टेस्टिंग में शामिल हुए लोगों की शरीर में कमजोर कोरोना वायरस का स्ट्रीम डाला जाएगा और इंतजार किया जाएगा कि वह वायरस कैसे बढ़ रहा है।

इसके बाद वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गई वैक्सीन का प्रयोग आपके शरीर पर किया जाएगा। बता दें कि यूरोपियन देशों की 35 कंपनियां कोरोनावायरस से संबंधित टीके की खोज में लगी हैं।

फायरिंग और धमाके के बीच अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने ली शपथ

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी राष्ट्रपति पद की शपथ ले रहे थे उसी दौरान काबुल में बड़ा धमाका हुआ और फायरिंग की भी आवाज आ रही थी। यह धमाका शपथ ग्रहण समारोह से कुछ ही दूरी पर हुआ लेकिन बावजूद इसके अशरफ गनी नहीं रुके और शपथ ग्रहण समारोह जारी रहा।

बता दें कि अफगानिस्तान में अशरफ गनी के प्रतिद्वंदी अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने भी खुद को अफगानिस्तान का राष्ट्रपति घोषित किया हुआ है। वहीं विशेषज्ञ इस राजनीतिक घमासान को तालिबान के साथ शांति वार्ता के लिए नुकसानदेह बता रहे हैं।

बता दें कि दो सप्ताह पहले ही अमेरिका और तालिबान के बीच शांति समझौता हुआ था।

T-20 Women World Cup 2020: भारत को हराकर ऑस्ट्रेलिया बना ‘चैंपियन’

भारतीय महिला टीम पहली बार फाइनल में पहुंची थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भारत को 85 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

यह पांचवां मौका है, जब ऑस्ट्रेलियन महिला टीम ने आईसीसी T20 विमेन वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया है। इससे पहले 2010, 2012, 2014 और 2018 में भी उसने यह वर्ल्ड कप अपने नाम किया था। ऑस्ट्रेलिया की मूनि जिन्होंने नाबाद 78 रन बनाया और हीली जिन्होंने 75 रन बनाया, इनका योगदान आस्ट्रेलिया की जीत में सबसे ज्यादा रहा, क्योंकि इनके प्रयासों से मात्र 4 विकेट पर 184 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा हो चुका था।

बड़े लक्ष्य के दबाव में भारतीय टीम बिखर गई। मात्र 18 रन की शुरुआत पर ही उसके तीन बड़े विकेट गिर गए। यहां तक कि कप्तान हरमनप्रीत कौर भी कुछ खास नहीं कर पाईं और फिर एक के बाद एक विकेट गिरते रहे। जाहिर तौर पर महिला वर्ल्ड कप जीतने का भारतीय टीम का सपना फिलहाल चकनाचूर हो गया है।

दिल्ली हिंसा पर तुर्की और ईरान के बयान से खुश हुआ पाकिस्तान

24 फरवरी को दिल्ली में भड़की हिंसा को लेकर ईरान और तुर्की के नेताओं की प्रतिक्रिया पर पाकिस्तान ने बेहद खुशी जताई है। वहीं ईरान के नेता अयोतुल्लाह खुमैनी और तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोगन ने दिल्ली की हिंसा को मुस्लिमों का नरसंहार बताया है।

इन नेताओं के बयां के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इन दोनों नेताओं को धन्यवाद कहा है कि उन्होंने भारत में मोदी सरकार के द्वारा मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाई है।